‘‘रेलकर्मियों को भी मिले निजी अस्पतालों में चिकित्सा सुविधा’ – कामरेड शिव गोपाल मिश्र

| May 23, 2017 | Reply

‘‘रेलकर्मियों को भी मिले निजी अस्पतालों में चिकित्सा सुविधा’
नई दिल्ली। ऑल इंडिया रेलवे मेंस फेडरेशन के महामंत्री शिवगोपाल मिश्र ने कहा कि सीजीएचएस के दायरे में आने वाले केंद्रीय कर्मियों की तरह रेलकर्मियों को भी निजी अस्पतालों में कैशलेस चिकित्सा सुविधा मिलनी चाहिए।उन्होंने सोमवार को नार्दर्न रेलवे मेंस यूनियन की ओर से आयोजित सेवानिवृत्त रेलकर्मियों के लिए कैशलेस स्कीम पर आयोजित गोष्ठी को संबोधित करते हुए कहा कि सेवानिवृत्त होने के बाद अनेक रोग घेरने लगते हैं। इस अवस्था में समुचित चिकित्सा की व्यवस्था होना अति आवश्यक है। आज के समय में चिकित्सा दिनोंदिन महंगी होती जा रही है। अंतत: कैशलेस चिकित्सा स्कीम को सही मायने में लागू किया जाना अति आवश्यक है। नार्दर्न रेलवे मेंस यूनियन के केंद्रीय अध्यक्ष एसके त्यागी ने कहा कि अभी तमाम रेल कर्मचारियों को आपात स्थिति में किसी प्राइवेट अस्पताल में इलाज कराना पड़ता है, जिसका खर्च उन्हें स्वयं वहन करना पड़ता है। इस मौके पर रेलवे बोर्ड के सदस्य कार्मिक प्रदीप कुमार मुख्य अतिथि थे। विशिष्ट अतिथियों में डीजी (स्वास्य सेवा) डॉ. अनिल कुमार और अतिरिक्त सदस्य (कार्मिक) रेलवे बोर्ड, मनोज पांडेय के अलावा उत्तर रेलवे के महाप्रबंधक आरके कुलश्रेष्ठ, मुख्य चिकित्सा निदेशक डॉ. सुनील कपूर, मुख्य कार्मिक अधिकारी अंगराज मोहन आदि मौजूद थे।

Tags:

Category: AIRF, Trade Union Activities

Leave a Reply